ईमेल का अविष्कार किसने किया?

0

आज के इस तकनिकी दुनिया में ऐसा कोई व्यक्ति नहीं जो इलेक्ट्रॉनिक मेल अथवा ईमेल से परिचित नहीं है. आधुनिक युग में संदेश भेजने के लिए ईमेल भेजने की प्रक्रिया हर जगह अपनाई जाती है फिर चाहे वो कोई व्यवसाय हो, विश्व विध्यालय हो या कोई सरकारी या गैर सरकारी कार्यालय हो.

जिस प्रकार डाक द्वारा किसी पत्र को एक स्थान से दुसरे स्थान पर भेजा जाता है, उसी प्रकार आज computer के माध्यम से पत्र या महत्वपूर्ण दस्तावेजों को एक स्थान से दुसरे स्थान पर भेजे जाते हैं. ईमेल के द्वारा कोई भी पत्र या संदेश बहुत ही तेज़ी से भेजी जा सकती है.

ये तो हम सभी जानते हैं की ईमेल का इस्तेमाल क्यों किया जाता है और इससे बहुत से व्यवसाय को काफी फायेदा भी मिलता है. लेकिन क्या आप ये जानते हैं की ईमेल का अविष्कार कब और किसने किया था? या ईमेल के खोजकर्ता कौन हैं?

email ka avishkar kisne kiye

इसका जवाब बहुत ही कम लोगों के पास होगा, इसलिए आज मैंने सोचा की क्यों ना आपको इस बात की जानकारी दी जाये की ईमेल का संस्थापक कौन है? इसका जवाब जानने के लिए ईमेल का अविष्कार किसने किया ये लेख पूरा जरुर पढ़ें.

ईमेल का अविष्कार किसने किया?

आपको ये जानकर बहुत ही गर्व होगा की ईमेल का अविष्कार करने वाला व्यक्ति भारतीय है और ईमेल का अविष्कारक का नाम है Dr. Shiva Ayyadurai, जो की भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक हैं.

ईमेल के बिना आज दुनिया का चलना भी मुश्किल लगता है. कामकाज को आसान बनाने और करोड़ों की लागत में लगने वाले कागज़ को बचाने में ईमेल ने जो हमारी सहायता की है उसकी तो कल्पना भी नहीं की जा सकती है.

ईमेल एक internet के माध्यम किसी computer या अन्य device से पत्र भेजने का एक तरीका है. ये तरीका बेहद आसान है और इसे computer के अलावा smartphone से भी भेजा जा सकता है.

ईमेल का जन्मदाता शिवा अय्यादुरई जी का जन्म 1964 में मुंबई में रहने वाले एक तमिल परिवार में हुआ था. 7 साल की उम्र में शिवा माता पिता के साथ अमेरिका जा बसे थे.

अमेरिका में शिवा ने न्यूजर्सी स्थित लिविंगस्टन हाई स्कूल में पढाई की. कुछ समय बाद उन्हें न्यू जर्सी स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ़ मेडिसिन एंड इंडस्ट्री में रिसर्च फैलो यानि किसी research के सदस्य के रूप में काम करने का मौका मिला. 1978 में फैलोशिप के दौरान ही शिवा ने दुनिया का पहला इंटरऑफिस मेल सिस्टम तैयार किया, जिसे “ई-मेल” का नाम मिला, उस वक्त शिवा अय्यादुरई महज 14 साल के थे.

अय्यादुरई द्वारा बनाये गए इसी program को अधिकारिक तौर पर ईमेल की खोज करने वाले के रूप में मान्यता दे दी गई. यानि की अय्यादुरई को ईमेल की खोज का copyright दिया गया.

उस दौर में software खोज की सुरक्षा के लिए Copyright ही एक मात्र उपलब्ध तरीका था. ईमेल के लिए अधिकारिक अमेरिकी नोटिस अब स्मिथसोनियन इंस्टीटयुसन नेशनल म्यूजियम ऑफ़ अमेरिकन हिस्ट्री (SINMAH) के पास है.

अय्यादुरई के मुताबिक ईमेल का वास्तविक मतलब यह होता है की उसमें ‘inbox, outbox, drafts, folder, delete, archive’ जैसी सुविधाएं हो. उन्होंने ये दावा किया की यह सारी सुविधाएं उनके ईमेल में थी. अय्यादुरई को ईमेल की खोज के लिए वेस्टिंगहाउस साइंस टैलेंट सर्च ऑनर्स अवार्ड से नवाजा गया था.

ईमेल भेजने के लिए ईमेल address की आवश्यकता होती है जो username और domain name से मिलकर बना होता है जिसे email ID कहते हैं जैसे [email protected]

‘@’ sign username और domain name address को जोड़ने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. इस ‘@’ का अविष्कार Ray Tomilson ने किया.

Ray Tomilson अमेरिकी programmer थे जिन्होंने किसी एक नेटवर्क पर विभिन्न मशीनों के बिच सीधे इलेक्ट्रॉनिक संदेश भेजने का अविष्कार किया था. उससे पहले user एक ही computer का इस्तेमाल करते हुए दूसरों के लिए संदेश लिख सकते थे. इसलिए Ray Tomilson को भी फादर ऑफ़ ईमेल माना जाता है.

फ़ोन पर अपनी ईमेल आईडी कैसे बनाएं?

आज के समय में ईमेल आईडी का इस्तेमाल हर जगह पर किया जाता है जैसे online shopping, online job form, Google play store, Google map इत्यादि. आप अपना ईमेल आईडी Google की free service gmail का इस्तेमाल करके आसानी से बना सकते हैं.

अगर आपने अभी तक अपना ईमेल आईडी नहीं बनाया है, तो इसके लिए आपको computer की ही जरुरत होगी ऐसा नहीं है, आप अपने फ़ोन से भी ईमेल आईडी बना सकते हैं. फ़ोन पर ईमेल आईडी बनाने की प्रक्रिया निचे दी गई है-

1. सबसे पहले आपको अपने mobile के किसी भी browser में ‘gmail.com’ लिख कर search करना है.

2. नया account बनाने के लिए Create Account पर click करना है. उसपर click करते ही आपको दो विकल्प नज़र आयेंगे- Create account ‘For myself’ और ‘To manage my Business.’

अगर आपको अपने लिए ईमेल आईडी बनानी है तो ‘for myself’ का विकल्प चुनिए और अगर आपको अपने business के लिए ईमेल आईडी बनानी है तो ‘to manage my business’ का विकल्प चुनिए जिसमे आपको अपने business के नाम से ही user id बनानी है.

3. Create Account का विकल्प चुनने के बाद आगे की स्क्रीन पर आपको कुछ और option दिखाई देंगे जिनमे आपको अपनी personal details भरनी है जैसे- आपका नाम, username, Password, confirm password.

ध्यान रहे की आपको username और password दोनों ही unique रखनी है, और ऐसा रखें जो की आपको हमेसा याद रहनी चाहिए.

क्योंकि आप जब ईमेल account में login करेंगे तो आपसे username और password ही हर बार पूछे जायेंगे. सारी details भरने के बाद ‘Next’ वाले option पर click कर लें.

4. आगे की स्क्रीन पर आपको ‘Verifying your phone number’ option मिलेगा जिसमे आपको अपना mobile number देना है और वही number देना है जो उस समय आप अपने mobile में इस्तेमाल कर रहे हैं.

क्योंकि आपके उसी number पर Google की तरफ से verification के लिए एक OTP भेजा जायेगा जो 6 digits का होता है. OTP आते ही दिए गए box पर 6 digits का number देकर ‘Verify’ पर click कर लीजिये.

5. Verify करने के बाद ‘Welcome to Google’ का page खुलेगा जिसमे आपको फिर से कुछ option दिखाई देंगे.

इसमें आपको phone number का option फिर से दिखेगा आप उसमे अपना number भर दें. उसके बाद ‘Recovery email address’ का option होगा जो की optional है यानि की आप इस option को बिना भरे छोड़ भी सकते हैं.

अगले option में आपको अपना Birth date भरना है और ‘Gender’ वाले option को भी भरना है उसके बाद ‘Next’ पर click करना है.

6. अगले page में आपको Google की ‘Privacy and Terms’ दिखाई देगा, जिसे आप चाहे तो पढ़ सकते हैं की google की क्या policy होती है या तो फिर निचे scroll करके ‘I agree’ के बटन पर click कर लीजिये.

7. इस step में आपकी ईमेल आईडी बन चुकी होगी और आपको Google की तरफ से एक ‘Welcome’ का popup दिखाई देगा उसमे ‘Next’ पर click करते ही आपको अपने ईमेल account में login करने का page खुलेगा.

जिसमे आपको वही username और password भरना है जो आपने account बनाते समय दिया था.
Account बनाने के बाद आप अपना ईमेल आईडी online कहीं पर भी किसी भी काम के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं साथ ही इसके जरिये आप कुछ भी message या data अपने दोस्तों को भेज सकते हैं.

रिकवरी ईमेल एड्रेस का मतलब क्या होता है?

ईमेल आईडी बनाने की प्रक्रिया में आपने देखा होगा की Recovery email address का एक विकल्प उसमे मौजूद था जो की optional था यानि की आप उसे भर भी सकते हैं या खाली छोड़ भी सकते हैं.

लेकिन क्या आपको इसकी जानकारी है की रिकवरी ईमेल एड्रेस का मतलब क्या है? आप जब भी अपना ईमेल account बनायेंगे तो अपने account को सुरक्षित रखने के लिए recovery email address का विकल्प चुनना होता है.

Recovery email address में आपको अपना phone number और एक email id देना होता है अगर आपके पास पहले से ही एक email id मौजूद है तो. अगर नहीं है तो आप सिर्फ अपना phone number भी दे सकते हैं.

Recovery email address का इस्तेमाल इसलिए किया जाता है ताकि जब कभी भी आप अपना password भूल जायेंगे या पुराने वाले password को बदलकर नया password रखना चाहेंगे तब आपको ऐसा करने में recovery का विकल्प सहायता करता है.

जब आप अपना password बदलना चाहेंगे तब google आपके Recovery email address में दिए गए phone number या email address पर आपको एक code या OTP भेज देता है जिसका इस्तेमाल करके आप अपना password आसानी से बदल सकते हैं.

Recovery email address आपके account को hacker या किसी अन्य व्यक्ति से अपके email account को सुरक्षित रखता है जो की आपके इजाजत के बिना आपके account में प्रवेश नहीं कर सकते हैं.

मुझे उम्मीद है की आपको इस लेख “ईमेल का अविष्कार किसने किया?” से ईमेल के आविष्कारक कौन हैं? पता चल गया होगा और साथ ही अपने phone से ईमेल आईडी कैसे बनाये और रिकवरी ईमेल एड्रेस का क्या मतलब होता है इन सबकी भी जानकारी आपको मिल गई होगी.

अगर आपको ये लेख अच्छा लगा तो इसे अपने सभी दोस्तों के साथ हर social networking sites पर जरुर शेयर करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here